देवता झूमर झूमर के नाचे – दुकालू यादव | devta jhumar jhumar ke nache ho lyrics | पुराना जस गीत लिरिक्स

देवता झूमर झूमर के नाचे – दुकालू यादव 
Devta Jhumar Jhumar Ke Nache Lyrics
🌺पुराना जस गीत लिरिक्स 🌺
  • गीत : देवता झूमर झूमर के नाचे
  • गायक : दुकालू यादव
  • गीतकार : लक्ष्मण यादव
  • संगीतकार : दुकालू यादव
  • लेबल : केके कैसेट

स्थायी

ऐे देवता झूमर झूमर के नाचे हो

ऐ मोर माया माते सिरी के दरबार मा

ऐे देवता झूमर झूमर के नाचे हो

ऐ मोर माया माते सिरी के दरबार मा

माते सिरी के दरबार मा 

हो माते सिरी के दरबार मा

ऐ देवता ये देवता

ऐ देवता ये देवता

ऐे देवता झूमर झूमर के नाचे हो

ऐ मोर माया माते सिरी के दरबार मा



अंतरा 1

ढोलक बाजे टासा बाजे 

अऊ बाजत हे मंदरी

ये झांझ मंजीरा दफली बाजे 

बसुरी संग म मोहरी

ये दे बसुरी संग म मोहरी हो मईया

बसुरी संग म मोहरी

ये दे बसुरी संग म मोहरी हो मईया

बसुरी संग म मोहरी

सेउक बिधुन हो के जब गाये हो

ये मोर माया माते सिरी के दरबार मा



अंतरा 2

ब्रम्हा नाचे विष्णु नाचे 

अऊ नाचे शिव शंकर

गदा धर बजरंगी नाचे

नाचे देवता इंदर

ये दे नाचे देवता इंदर मईया 

नाचे देवता इंदर

ये दे नाचे देवता इंदर मईया 

नाचे देवता इंदर

नाचे नारद मुनि वीणा धारी हो

ये मोर माया माते सिरी के दरबार मा



अंतरा 3

राम हा नाचे श्याम हा नाचे 

नाचे पांचो पंडवा

ऐ खप्पर धर के नाचे भैरव 

बाना धर के दुलरवा

ये दे बाना धर के दुलरवा हो मईया

बाना धर के दुलरवा

ये दे बाना धर के दुलरवा हो मईया

बाना धर के दुलरवा

जब नाचन लगे नर नारी हो

ये मोर माया माते सिरी के दरबार मा



अंतरा 4

काली नाचे चण्डी नाचे 

नाचे सातो बहिनियां

जस पचरा ला गावत गावत 

नाचन लागे कोसरिया

ये दे नाचन लगे कोसरिया हो मईया 

नाचन लगे कोसरिया

ये दे नाचन लगे कोसरिया हो मईया 

नाचन लगे कोसरिया

जब नाचन लगे महतारी हो 

ये मोर माया नव दुर्गा के अवतार मा

माते सिरी के दरबार मा

हो माते सिरी के दरबार मा

ऐ देवता ये देवता

ऐ देवता ये देवता

ऐे देवता झूमर झूमर के नाचे हो

ऐ मोर माया माते सिरी के दरबार मा



cgsongslyrics.com

Leave a comment

error: Content is protected !!