चिनहा मांगे मुंदरी के – दिलीप राय | Chinha Mange Mundari Ke Lyrics | Dilip Ray CG Song Lyrics

✴️ चिनहा मांगे मुंदरी के ✴️
Chinha Mange Mundari Ke Lyrics 
🌿 Dilip Ray CG Song Lyrics 🌿

  • गीत – चिनहा मांगे मुंदरी के
  • स्वर – दिलीप राय 
  • गीतकार – दिलीप राय
  • संगीतकार – दिलीप राय
  • लेबल – AVM GANA



स्थायी

चिनहा मांगेंव मैं देहे मुंदरी ल 

जगा बनाए मोर दिल म

चिनहा मांगेंव मैं देहे मुंदरी ल 

जगा बनाए मोर दिल म


नई तो जानत रेहेंव गा

तैं समागे मोर दिल म

नई तो जानत रेहेंव रे 

तैं समागे मोर दिल म


चिनहा मांगे तोला देहे मुंदरी ल 

जगा बनायेंव तोर दिल म

चिनहा मांगे तोला देहे मुंदरी ल 

जगा बनायेंव तोर दिल म

मैं तो जानम रहेंव वो

टूरी बसे हावौ तोरे दिल म रे

मैं तो जानम रहेंव वो

अरे बसे हावौ तोर दिल म रे


अंतरा 1

कईसे बतावव मैं मोरे मया ल 

छाए हे भारी लचारी

कईसे बतावव मैं मोरे मया ल 

छाए हे भारी लचारी

ये लपरहा के चक्कर म रात दिन मोला 

आए रे बैरी बिमारी

ये लपरहा के चक्कर म रात दिन मोला 

आए रे बैरी बिमारी


कोनो घर बार चाचा ल बुलावव गा

कईसना भूते तेला भगवावव रे


कोनो डॉक्टर लावा रे 

मोर बने इलाज करावा

कोनो डॉक्टर लावा गा 

मोर बने इलाज करावा




अंतरा 2

मया पिरीत के गोठ गोठियाए 

टूरी बलाए मुंधियार के

मया पिरीत के गोठ गोठियाए 

टूरी बलाए मुंधियार के

देवरा म आबे रानी चिनहा दे देहूं

पहिर मैं तोला प्यार के

देवरा म आबे टूरी चिनहा दे देहूं

पहिर मैं तोला प्यार के


मैं तो बैगा आवव वो

जल्दी चिमनी दीया ला बार


नई तो जानत रेहेंव गा

तैं समागे मोर दिल म

नई तो जानत रेहेंव रे 

तैं समागे मोर दिल म


चिनहा मांगेंव मैं देहे मुंदरी ल 

जगा बनाए मोर दिल म

चिनहा मांगेंव मैं देहे मुंदरी ल 

जगा बनाए मोर दिल म


नई तो जानत रेहेंव गा

तैं समागे मोर दिल म

नई तो जानत रेहेंव रे 

तैं समागे मोर दिल म


चिनहा मांगे तोला देहे मुंदरी ल 

जगा बनायेंव तोर दिल म

चिनहा मांगे तोला देहे मुंदरी ल 

जगा बनायेंव तोर दिल म


मैं तो जानम रहेंव रे

मैं तो बसे हावौ तोरे दिल म रे

नई तो जानत रेहेंव गा

तैं समागे मोर दिल म


मैं तो जानम रहेंव ओ

मैं तो समाए हौं तोरे दिल म रे



Leave a comment

error: Content is protected !!