कारी अंधियारी जिनगी – ममता चन्द्राकर | Kali Andhiyari Jingi Ma Mor Lyrics | Narayan Gwala, Mamta Chandrakar – CG Song Lyrics

🎵कारी अंधियारी जिनगी🎵
💕Kali Andhiyari Jingi Ma Mor Lyrics💕
🌺CG Song Lyrics 🌺

  • गीत – कारी अंधियारी
  • स्वर – नारायण ग्वाला, ममता चन्द्राकर
  • गीत – पीसीलाल यादव
  • संगीत – प्रेम चन्द्राकर
  • लेबल – केके कैसेट

स्थायी

कारी अंधियारी जिनगी म मोर

कारी अंधियारी जिनगी म मोर

चंदा बन के करे तैं अंजोर हो

चंदा बन के करे तैं अंजोर


सुन्ना मंदिर रिहिस हे मन हा मोर

सुन्ना मंदिर रिहिस हे मन हा मोर

देवता कस पायेंव रूप ला मैं तोर हो

देवता कस पायेंव रूप ला मैं तोर


अंतरा 1

सपना तो सपना ये आज होगे सिरतोन

करम के लेखा ला भला मेटे हावै रे कोन

सपना तो सपना ये आज होगे सिरतोन

करम के लेखा ला भला मेटे हावै रे कोन

तीही मोर आंखी संगी 

तीही मोर पांखी 

तीही मोर जिनगी के आवस साखी

लाहकत पंक्षी कस ये मन मोर 

लाहकत पंक्षी कस ये मन मोर 

करे जुड़ छंईहा अचरा हा तोर हो

करे जुड़ छंईहा अचरा हा तोर


अंतरा 2

मन म मया के तोर रंग चढ़े हावै

एक दूसर बर विधाता गढ़े हावै

मन म मया के तोर रंग चढ़े हावै

एक दूसर बर विधाता गढ़े हावै

तीही मोर करम संगी 

तीही मोर धरम

तीही मोर आवस संगी जिनगी के मरम

प्यास धरती जस ये मन मोर

प्यास धरती जस ये मन मोर

सावन बन बरसे मया हा तोर हो

सावन बन बरसे मया हा तोर


कारी अंधियारी जिनगी म मोर

सुन्ना मंदिर रिहिस हे मन हा मोर

चंदा बन के करे तैं अंजोर हो

देवता कस पायेंव रूप ला मैं तोर

लाला लाला ला लाला ला ला

हूं हूं हूं हूं हूं हूं हूंहूंहूं हूं

Leave a comment

error: Content is protected !!