आरा पारा बाजे नंगारा – अनुज शर्मा, चंपा निषाद | छत्तीसगढ़ी होली गीत लिरिक्स

 आरा पारा बाजे नंगारा
AARA PARA BAJE NANGARA LYRICS
छत्तीसगढ़ी होली गीत

  • गीत – आरा पारा बाजे नंगारा
  • स्वर – अनुज शर्मा, चंपा निषाद
  • गीतकार – रामनारायण ध्रुव
  • संगीतकार – रामनारायण ध्रुव, अनुज शर्मा, विवेक-निलेश शर्मा
  • छत्तीसगढ़ी होली गीत
  • लेबल – AARUG MUSIC

स्थायी

आरा पारा बाजे नंगारा हो 

आरा पारा बाजे

पारा पारा बाजे नंगारा हो

आरा पारा बाजे


नाचे रे झूम झूम गावै रे घूम घूम

ओरी ओरी जुरियागे

पारा पारा बाजे नंगारा हो

आरा पारा बाजे


अंतरा 1

गांवे रे धरसा फूले रे परसा 

लाली म लाली रंगाए

मउर गे आमा छंउर गे झामा

माड़ी म गोड़ी हलाए


मउहा टपाटप भंवरा झपाझप

कोयली कुहू कुहूकुहागे

आरा पारा बाजे नंगारा हो 

आरा पारा बाजे


अंतरा 2

मनखे खमाखम जुरे झमाझम

लाली लाली ललियाए

संगी जहूंरिया पिवरा अउ करिया

रंगे के धार बोहाए


बाजे धमाधम नाचै छमाछम

होरी के रंग रंगागे

आरा पारा बाजे नंगारा हो 

आरा पारा बाजे

अंतरा 3

ये दे बन के पहुना सबो के अंगना

फागुन महिना आगे 

ये दे बरस ए दिन म गली गलिन म 

रंग गुलाल उड़ाए


माते रे होरी एती रे ओती

माते रे होरी एती रे ओती

मंदहा सही मतागे

आरा पारा बाजे नंगारा हो 

आरा पारा बाजे

आरा पारा बाजे नंगारा हो 

आरा पारा बाजे


नाचे रे झूम झूम गावै रे घूम घूम

ओरी ओरी जुरियागे

आरा पारा बाजे नंगारा हो

आरा पारा बाजे


अरे आरा पारा बाजे नंगारा हो

आरा पारा बाजे

आरा पारा बाजे नंगारा हो

आरा पारा बाजे

Leave a comment

error: Content is protected !!